Home Top Ad

आरती श्री शनि देव जी की - Aarti - Shri Shanidev Ji Ki Jai Jai

Share:
आरती श्री शनि देव जी की  - Aarti - Shri Shanidev Ji Ki Jai Jai
Shri Shanidev Ki Aarti in Hindi


जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।
सूरज के पुत्र प्रभु छाया महतारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitakaari
Sooraj Ke Putra Prabhu Chaaya Mahataari
Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitakaari


श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी।
निलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

Shyaam Ank Vakra Drasht Chaturbhujaa Dhari
Nilambar Dhar Nath Gaj Ki Sawari
Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitakari

क्रीट मुकुट शीश सहज दिपत है लिलारी।
मुक्तन की माल गले शोभित बलिहारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

Kirit Mukut Shish Sahaj Deepat Hai Lilari
Muktan Ki Maal Gale Shobhit Balihaari
Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitakari

मोदक और मिष्ठान चढ़े, चढ़ती पान सुपारी।
लोहा, तिल, तेल, उड़द महिषी है अति प्यारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

Modak Mishtan Paan Chadhat Hai Supari
Lohaa Til Tel Udad Mahishi Ati Pyari
Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitakari


देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी।
विश्वनाथ धरत ध्यान हम हैं शरण तुम्हारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

Dev Danuj Rishi Muni Surat Nar Nari
Vishwanaath Dharat Dhyaan Sharan Hai Tumhari
Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitakari

No comments